ये आदतें बर्बाद कर रही है आपकी सेक्‍स लाइफ, पोर्न है सबसे ज्‍यादा जिम्‍मेदार!

0

क्‍या आप अपनी खुशहाल जिंदगी में कुछ वक्‍त सेक्‍स के ल‍िए नहीं निकाल पा रहे हैं? खैर, आप अकेले ऐसे शख्‍स नहीं है। आपके आस पास ऐसे कई लोग है जो अपनी सेक्‍सलाइफ में खुश नही है और एक अच्‍छे लवमेकिंग सेशन के ल‍िए उनके पास समय नहीं है। वैसे देखा जाए तो सामान्‍य बात नहीं है, ये असल में घबराने वाली बात है। बदलती लाइफस्‍टाइल में पुरुषों के यौन इच्‍छा में कई वजहों से कमी आई है।

कई बार इस बात का पुरुष ठिकारा टेक्‍नोलॉजी और वजन बढ़ने जैसी समस्‍याओं पर फोड़ देते हैं, लेकिन सेक्‍स लाइफ में आ रही कमी की पीछे ये कारण ही काफी नहीं है। सेक्‍स लाइफ में कम होते रोमांच की पीछे कई कारण है। आइए जानते है कि आखिर क्‍यों पुरुष चाहकर भी एक अच्‍छा सेक्‍स लाइफ नहीं जी पा रहे है।

यौन उत्तेजना में कमी आपके व्‍यक्तिगत जीवन को अस्‍त-व्‍यस्‍त कर सकती है, जानते है उन कारणों को जिसकी वजह से आपकी सेक्‍स लाइफ बर्बाद हो रही है।

नींद की कमी

एक स्‍टडी में ये बात सामने आई थी कि पुरुषों में सेक्‍स और नींद का गहरा संबंध होता है। जिन पुरुषों को नींद की कमी होती है, उनके शरीर मे टेस्‍टोस्‍टेरोन हार्मोन का स्‍तर कम होता है। टेस्‍टोस्‍टेरोन ही पुरुषों में कामेच्‍छा को बढ़ाने का काम करता है। टेस्‍टोस्‍टेरोन की कमी के चलते पुरुषों की कामेच्‍छा यानी सेक्‍स करनी की इच्‍छा में कमी आ जाती है। जिन पुरुषों को रात में अच्‍छी नींद नहीं आती है, वे रात के समय कम टेस्‍टोस्‍टेरोन के स्‍तर से गुजरते हैं। एक हेल्‍दी सेक्‍स लाइफ के ल‍िए अच्‍छी नींद लेना बहुत जरुरी है।

दवाईयों के सेवन से

कुछ विशेष प्रकार की दवाओं को लेने से भी पुरुषों में टेस्‍टोस्‍टेरोन के स्‍तर में कमी आ सकती है, जिसकी वजह से उनमें सेक्‍स करने की इच्‍छा कम होने लगती है। अगर किसी दवा का सेवन करने के बाद आपको महसूस होता है कि आप में यौन उत्‍तेजना में कमी आई है तो आप इस संबंध में आप अपने डॉक्‍टर से संपर्क करें, वे विकल्‍प के तौर पर आपकी दवाओं को बदल सकते

मास्‍टरबेट की लत

इस बात में कोई शक नहीं है कि मास्‍टरबेशन एक हेल्‍दी एक्टिविटी है, कभी कभी इसे करने में कोई प्रॉब्‍लम नहीं है। लेकिन कभी कभार हद से ज्‍यादा मास्‍टरबेशन करना या मास्‍टरबेट की लत लग जाने की वजह से आपकी सेक्‍स लाइफ बर्बाद हो सकती है। एक बार अगर आपको खुद से संतुष्‍ट होने की लत लग गई तो पार्टनर के साथ सेक्‍स करने में आपको बिल्‍कुल भी रोमांच नहीं आएगा। इसल‍िए कोशिश करें कि आप इस आदत की वजह से असली सेक्‍स यानी पार्टनर के साथ सेक्‍स करने के रोमांच से हाथ धो बैठे।

व्‍यस्‍त लाइफस्‍टाइल

सेक्‍स लाइफ खराब होने या सेक्‍स में कमी आने की पीछे एक वजह हैक्टिक वर्क शेड्यूल भी है। आजकल लोगों की लाइफ स्‍टाइल बहुत व्‍यस्‍त हो चुकी है, लोगों के पास अपने और दूसरों के ल‍िए फुसर्त के पल भी नहीं है, जिसका असर उनकी पर्सनल लाइफ पर पड़ने लगा है। ऑफिस में देर तक बैठना, ज्‍यादा वर्क लोड और घंटो लेपटॉप पर बिताने के वजह से स्‍ट्रेस और थकान की समस्‍या लोगों में देखी जाने लगी है। जिस वजह से पुरुष अक्‍सर सेक्‍स लाइफ का इग्‍नोर करने लगे हैं। सेक्‍स लाइफ को जीने क ल‍िए आपको समय निकालना पड़ेगा। एक बात याद रखें आप जीने के ल‍िए काम करते हैं न कि काम करने के ल‍िए जीते हैं।

डिप्रेशन की वजह से

अवसाद किसी भी व्‍यक्ति के व्‍यक्तिगत जीवन को प्रभावित कर सकता है। डिप्रेशन के कारण पुरुषों और महिलाओं दोनों की यौन इच्‍छा में कमी आती है, जिससे उन्‍हें सफल और संतुष्‍ट यौन संबंध बनाने में कठिनाई होती है। इसके अलावा कामेच्‍छा में कमी कुछ एंटी ड्रिप्रेसेंट्स दवाओं का दुष्‍प्रभाव भी होता है इससे नींद आने लगती है और ल‍िबिडो का स्‍तर कम होने लगता है। जिससे सेक्‍स लाइफ इफेक्‍ट होती है।

बढ़ती उम्र

पुरुषों में सेक्‍स लाइफ को लेकर कम होती चाह की पीछे एक वजह बढ़ती उम्र भी हो सकती है। शरीर में हार्मोनों का स्‍तर हर समय निश्चित नहीं रह सकता है। उम्र के अलग-अलग पड़ाव के साथ शरीर में मौजूद हार्मोन के स्‍तर में भी कमी आती है। टेस्‍टोस्‍टेरोन भी आपके शरीर में एक हार्मोन के रूप में उपस्थित रहता है। पुरुषों में टेस्‍टोस्‍टेरोन की अधिकतम मात्रा किशोर अवस्‍था में होती है। अध्‍ययन बताते हैं कि पुरुष आमतौर पर 60 से 65 वर्ष की उम्र के आसपास अपनी कामेच्‍छा में कमी की वजह से यौन इच्‍छा में कमी आना स्‍वाभाविक है, लेकिन इस प्रकार की समस्‍या से बचने के लिए आपको हेल्‍दी लाइफ स्‍टाइल की तरफ ध्‍यान देना जरुरी है।

पोर्न मूवी की वजह से

बहुत सारी महिलाओं की शिकायत होती है कि उनके पार्टनर को रियल सेक्‍स करने में दिलचस्‍पी नहीं आती है क्‍योंकि उनको पोर्न देखने की आदी हो चुके है। पोर्न मूवीज ने कई तरह से सेक्‍स लाइफ को प्रभावित किया है। कई लोग पोर्न को वास्‍तविक सेक्‍स से जोड़कर देखते है इस वजह से वो वास्‍तविक सेक्‍स लाइफ की पोर्न से तुलना करने लग जाते है। जब उनकी पार्टनर उनकी फैंटेसी के धरातल पर खरी नहीं उतरती है तो उनको अपनी सेक्‍स लाइफ बोरिंग लगने लगती है और ऐसे उनकी सेक्‍स लाइफ बर्बाद होने लगती है।

Share.

About Author

Leave A Reply