गर्मी में स्किन कैंसर से बचने के लिए अपनाएं ये डाइट टिप्‍स

0

अगर आपको गर्मी के मौसम में दिन के समय मे ऐसे कपड़े पहनना पसंद है जिनमें त्‍वचा पर धूप ज्‍यादा पड़ती हो तो आपको अपनी इस आदत को जितना जल्‍दी हो बदल लेना चाहिए। गर्मी में धरती पर सूर्य की तेज किरणें पड़ती हैं जोकि कई तरह की बीमारियां जैसे त्‍वचा कैंसर तक का कारण बन सकती हैं।

गर्मी में भारत जैसे देशों में बहुत उमस और गर्म मौसम रहता है और ऐसे में शॉर्ट्स, स्‍कर्ट्स या फ्लिप फ्लॉप पहनना लोग ज्‍यादा पंसद करते हैं ताकि गर्मी से बचा जा सके। हालांकि, सूर्य की यूवी किरणें गर्मी में बहुत ज्‍यादा हानिकारक हो जाती हैं और इसलिए जितना हो सके धूप में निकलते समय खुद को पूरी तरह से ढक लें ताकि सनबर्न, हीट स्‍ट्रोक और त्‍वचा कैंसर आदि से खुद को बचाया जा सके।

त्‍वचा कैंसर एक ऐसी बीमारी है जो त्‍वचा की कोशिकाओं को प्रभावित करती है। इन कोशि‍काओं में असामान्‍य कैंसर ग्रंथियां बढ़ने लगती हैं। अगर समय पर इसका पता ना चल पाए या ईलाज शुरु ना हो पाए तो ये और भी ज्‍यादा भयंकर रूप ले सकता है। कई सालों तक चली रिसर्च में पाया गया है कि सूर्य की किरणों और यूवी किरणों में आने से लोगों में कई तरह का त्‍वचा कैंसर पनप रहा है।

तो चलिए जानते हैं गर्मी के मौसम में स्किन कैंसर से बचने के कुछ डाइट टिप्‍स के बारे में..

नाश्‍ते में ओट्स

हम सभी जानते हैं कि पूरे दिन के खाने में नाश्‍ता सबसे ज्‍यादा जरूरी होता है और इसे छोड़ना सेहत के लिए नुकसानदायक होता है। नाश्‍ता ना करना या नाश्‍ते में गलत चीज़ें जैसे मफिंस, समोसा या मिठाई आद खाना ना सिर्फ सेहत को नुकसान पहुंचाता है बल्कि इनमें मौजूद ढेर सारा तेल और शुगर त्‍वचा की कोशिकाओं के लिए भी खराब होता है। हैल्‍दी फूड्स जैसे ओट्स खाने से कोशिकाओं में कैंसर को पनपने से रोका जा सकता है।

योगर्ट खाएं

रोज़ आपको योगर्ट का सेवन करना चाहिए। दही या ग्रीक योगर्ट आहार का प्रमुख हिस्‍सा होती है और गर्मी के मौसम में इसका सेवन करना और भी ज्‍यादा फायदेमंद होता है। योगर्ट शरीर के कुछ अंगों में गुड बैक्‍टीरिया की ग्रोथ को बेहतर करता है। कई स्‍टडी में भी यह बात सामने आई है कि शरीर में गुड बैक्‍टीरिया होने से त्‍वचा कैंसर पैदा करने वाले कारकों से लड़ने में मदद मिलती है।

कॉफी पीएं

सदियों से कॉफी के फायदों और नुकसान को लेकर चर्चा चली आ रही है। हालांकि, ये बात भी साबित हो चुकी है कि दिन में एक या दो कप कॉफी पीने से सेहत को कोई नुकसान नहीं होता है। इसके अलावा कई रिसर्च में ये बात भी सामने आई है कि कॉफी ना केवल एनर्जी से भर देती है बल्कि इसमें उच्‍च मात्रा में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट्स त्‍वचा कैंसर से भी बचाते हैं। ये एंटीऑक्‍सीडेंट सूर्य की किरणों और यूवी रेडिएशन से होने वाले फ्री रेडिकल डैमेज से बचाती है।

हरी सब्जियां खाएं

बचपन से ही हमें सिखाया जाता है कि पालक, पुदीना और एस्‍पैरागस जैसी हरी सब्जियां खाने से सेहत को फायदा होता है। हरी सब्जियों में पोषक तत्‍व प्रचुर मात्रा में होते हैं और सेहत को ये कई फायदे भी पहुंचाते हैं। वहीं गर्मी के मौसम में आहार में हरी सब्जियों को शामिल करने से त्‍वचा कैंसर का खतरा भी कम हो जाता है क्‍योंकि इसमें विटामिन ए और सी होता है जोकि सूर्य से त्‍वचा की कोशिकाओं को होने वाले नुकसान से बचाता है।

टमाटर का करें सेवन

गर्मी से बचने के लिए आप ताजा एक गिलास टमाटर का रस भी पी सकते हैं या फिर रोज़ सलाद में टमाटर खा सकते हैं। टमाटर इम्‍युनिटी को बढ़ाता है और पाचन को दुरुस्‍त करता है। इकसे अलावा टमाटर त्‍वचा कैंसर से बचाने में भी मदद करता है। इसमें लाइकोपिन और फाइटोकेमिकल्‍स नामक यौगिक मौजूद होते हैं जो सूर्य की यूवी रेडिएशन से त्‍वचा को बचाते हैं और इस तरह त्‍वचा कैंसर से बचाव मिलता है।

नट्स भी करते हैं मदद

हम सभी जानते हैं कि बादाम, काजू, पिस्‍ता आदि जैसे सूखे मेवों में पोषक तत्‍व बहुत ज्‍यादा होते हैं। इनमें विटामिन, प्रोटीन, मिनरल्‍स और ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है। इस वजह से सूखे मेवों से सेहत को कई फायदे मिलते हैं। नट्स्‍ा में विटामिन ई मौजूद होता है जोकि स्किन कैंसर से बचाने में मदद करता है। विटामिन ई त्‍वचा की कोशिकाओं को सूर्य की यूवी किरणों से बचाता है।

ग्रीन टी पीए

आपने कई बार अपने हैल्‍थ विशेषज्ञ को ये कहते सुना होगा कि अपनी डाइट में कॉफी या चाय की जगह ग्रीन टी पीना शुरु करें। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि ग्रीन टी से सेहत को कई फायदे मिलते हैं। ग्रीन टी में प्रचुर मात्रा में एंटीऑक्‍सीडेंट मौजूद होते हैं जो स्‍ट्रेस और वजन को कम करने में मदद करते हैं। इसके अलावा ये एंटीऑक्‍सीडेंट सूर्य की यूवी किरणों से त्‍वचा को होने वाले फ्री रेडिकल डैमेज से भी बचाते हैं जिससे त्‍वचा कैंसर से बचने में मदद मिलती है।

Share.

About Author

Leave A Reply